हाथरस डीएम पीड़िता के परिवार को जाकर धमका रहे हैं, ये लोग अत्याचारी हैं- प्रियंका गाँधी

Spread the love

उत्तर प्रदेश में जो कुछ हो रहा है उसपर आँखें मूँद लेना आसान हैं लेकिन उसका सामना करना मुश्किल I काफ़ी बातें उस बारे में कही जा रही हैं की बलात्कार हुआ की नहीं हुआ, क्यूंकि उत्तर प्रदेश के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर का कहना है की रेप नहीं हुआ क्यूंकि रिपोर्ट में नहीं आया I

खैर इस बात पर अब बवाल शुरू हो गया है I

कल कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गाँधी के साथ पुलिस ने धक्कामुक्की की और आज टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रयान को धक्का देकर गिरा दिया गया I अब सांसदों के साथ ऐसा व्यवहार किया गया है तो आम जनता का क्या ही कहें I

सांसदों का एक प्रोटोकॉल होता है जिसके हिसाब से चलना होता है I अब प्रियंका गाँधी ने कहा है कि;


यूपी सरकार किसी को पीड़िता के गांव जाने से क्यों रोक रही है उसका जवाब यहां है?
पीड़िता के परिवार को हाथरस डीएम जाकर धमका रहे हैं। उनके परिजनों के मन में भय।
न मीडिया जा पायेगा, न हम लोग तो यूपी सरकार पीड़िता के परिवार को खुलकर धमका पाएगी।

ये लोग अत्याचारी हैं।

शिवसेना के सांसद संजय राउत ने राहुल गाँधी के साथ हुई धक्कामुक्की पर कहा की, राहुल गाँधी राष्ट्रीय नेता हैं, पुलिस के इस बर्ताव का कोई समर्थन नहीं करेगा I राहुल गाँधी को जिस तरह कॉलर पकड़कर गिराया गया, ये एक तरह से लोकतंत्र का गैंगरेप है I

उधर दूसरी तरफ हाथरस के डीएम पर आरोप लग रहे हैं की उन्होंने पीड़िता के परिवार को धमकाया है लेकिन अब डीएम प्रवीण कुमार ने इन आरोपों से इनकार करते हुए कहा है कि,

मेरी बातचीत के बारे में फैलाई जा रही ग़लत अफ़वाहों को खारिज करता हूँ I

डीएम हाथरस विडियो में कहते दिखे गए हैं की, “आधे मीडिया वाले चले गए, आधे निकल जायेंगे, हम ही आपके साथ खड़े रहेंगे, आपकी इच्छा है आपको बार बार बयान बदलना है या नहीं बदलना है I

ये मुद्दा एकदम गरम होता चला जा रहा है और अब आने वाले समय में क्या होता है ये देखने वाली बात होगी बाकी उत्तर प्रदेश सरकार पीड़िता से किसी नहीं मिलने दे रही है और लगातार एसआईटी जाँच का हवाला दे रही है I

Related posts

Leave a Comment