राहुल गांधी ने मोदी सरकार की सोच पर कहा-न्यूनतम शासन,अधिकतम निजीकरण

Spread the love

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी ने शनिवार को ट्वीट करते हुए एक बार फिर मोदी सरकार को घेरा,जहाँ राहुल गांधी ने कहा-‘न्यूनतम शासन, अधिकतम निजीकरण’ इस सरकार की सोच है!

राहुल ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘‘ मोदी सरकार की सोच – न्यूनतम शासन, अधिकतम निजीकरण.’’

वही कांग्रेस नेता ने कहा कि ‘‘कोविड तो बस बहाना है, सरकारी दफ़्तरों को स्थायी ‘स्टाफ़-मुक्त’ बनाना है, युवा का भविष्य चुराना है, ‘मित्रों’ को आगे बढ़ाना है.’’
राहुल गांधी इससे पहले भी रोजगार और अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर मोदी सरकार की नीतियों को लेकर सवाल करते आये है! उन्होंने #विकासगायबहै के साथ ट्विट किया. राहुल ने कहा, ”5 ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था गायब, आम नागरिक की आमदनी गायब, देश की खुशहाली और सुरक्षा गायब, सवाल पूछो तो जवाब गायब.”

राहुल गांधी ने एक खबर शेयर की है उसके मुताबिक, कोरोना संकट को देखते हुए सरकार ने नयी सरकारी नौकरियों के सृजन पर रोक लगा दी है!

राहुल गांधी लगातार रोजगार के मुद्दे पर अपनी बात रखते है इससे पहले उन्होंने एक खबर का लिंक साझा करते हुए कहा कि मोदी सरकार, रोज़गार, बहाली, परीक्षा के परिणाम दो, देश के युवाओं की समस्या का समाधान दो!

Related posts

Leave a Comment