राहुल गांधी ने आर्थिक हालातों पर जारी किया अपनी सीरीज़ का आखिरी वीडियो,कहा-असंगठित क्षेत्र पर हमला था लॉकडाउन

Spread the love

नई दिल्ली: देश की आर्थिक हालात को लेकर मोदी सरकार को घेरते हुए, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपनी इकोनॉमी सीरीज़ का आखिरी वीडियो जारी किया है| जिसे राहुल गांधी ने वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा, ”अचानक किया गया लॉकडाउन असंगठित वर्ग के लिए मृत्युदंड जैसा साबित हुआ. वादा था 21 दिन में कोरोना ख़त्म करने का, लेकिन ख़त्म किए करोड़ों रोज़गार और छोटे उद्योग. मोदी जी का जनविरोधी ‘डिज़ास्टर प्लान’ जानने के लिए ये वीडियो देखें| ”

अपनी इकोनॉमी सीरीज़ के आखिरी वीडियो में राहुल गांधी ने असंगठित क्षेत्र का मुद्दा उठाया है,जिसमें राहुल गांधी ने कहा, ”कोरोना के नाम पर जो किया वो असंगठित क्षेत्र पर तीसरा हमला था| गरीब लोग रोज, छोटे उद्योगों से जुड़े लोग रोज कमाते हैं और रोज खाते हैं| जब आपने बिना किसी नोटिस के लॉक डाउन किया, आपने इनके ऊपर आक्रमण किया| प्रधानमंत्री जी ने कहा कि 21 दिन की लड़ाई होगी, असंगठित क्षेत्र की रीढ़ की हड्डी 21 दिन में ही टूट गयी|”

राहुल गांधी आगे कहते है कि, ”लॉक डाउन के बाद खोलने का समय आया, कांग्रेस पार्टी ने एक बार नहीं अनेक बार सरकार से कहा कि गरीबों की मदद करनी ही पड़ेगी| न्याय योजना जैसी एक योजना लागू करनी पड़ेगी, बैंक खाते में सीधे पैसा डालना ही पड़ेगा,नहीं किया गया| हमने कहा कि छोटे और लघु उद्योगों के लिए एक पैकेज तैयार कीजिए, उनको बचाने की जरूरत है. बिना इस पैसे के यह नहीं बचेंगे; उल्टा सरकार ने 15-20 अमीर लोगों का लाखों करोड़ का टैक्स माफ किया|”

राहुल गांधी बोले, “लॉकडाउन कोरोना पर आक्रमण नहीं था, लॉकडाउन हिंदुस्तान के गरीबों पर आक्रमण था| हमारे युवाओं के भविष्य पर आक्रमण था. लॉकडाउन मजदूर किसान और छोटे व्यापारियों पर आक्रमण था| हमारी असंगठित अर्थव्यवस्था पर आक्रमण था. हमें इस बात को समझना होगा, इस आक्रमण के खिलाफ हम सबको खड़ा होना होगा|”

Related posts

Leave a Comment