भारत-इंग्लैंड की चार मैचों की शृंखला को भारतीय टीम ने 3-1 से सीरीज की अपने नाम

Spread the love

कोरोना काल के बाद भारतीय सरजमीं पर अपना पहला टेस्ट मैच इंग्लैंड से हारने के बाद भारतीय टीम ने शानदार वापसी करते हुए सीरीज अपने नाम कर ली है। इंग्लैंड और भारत के बीच खेली गई चार मैचों की इस श्रृंखला को भारतीय टीम ने 3-1 से अपने नाम कर लिया है।

चौथा और आखिरी टेस्ट मैच भारतीय टीम ने पारी और 25 रन से जीत लिया है। इंग्लैंड की टीम पहली पारी में पहले खेलते हुए 205 पर सिमट गई थी। वहीं दूसरी पारी में उसने महज 135 रन पर घुटने टेक दिए।

इसी के साथ भारतीय टीम ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल का अपना टिकट भी कटवा लिया है। वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल न्यूजीलैंड और भारत के बीच 18 जून से लॉर्ड्स के मैदान पर खेला जाएगा।

भारतीय टीम के खिलाफ टेस्ट सीरीज का शानदार आगाज़ करने वाली इंग्लैंड टीम ने पहले टेस्ट के बाद अपनी लय खो दी। इसका नतीजा उसे सीरीज को 3-1 से हारते हुए चुकाना पड़ा।

4 मार्च से अहमदाबाद में शुरू हुए चौथे टेस्ट मैच को भारतीय टीम ने तीसरे दिन में ही समाप्त कर दिया है। इंग्लैंड टीम भारतीय फिरकी गेंदबाजों के आगे घुटने टेकती नज़र आई। इंग्लैंड पारी के 20 विकेट में से 18 विकेट फिरकी गेंदबाजों ने चटकाए। रवि अश्विन और अक्षर पटेल की जोड़ी ने इंग्लैंड को कभी भी संभलने का मौका नहीं दिया।

संक्षिप्त स्कोर:-
पहली पारी इंग्लैंड:- 205 पर ऑल आउट
(स्टोक्स – 55 रन, अक्षर- 4 विकेट)

भारत पहली पारी:- 365 पर ऑल आउट
(पंत- 101 रन, स्टोक्स- 4 विकेट)

भारत को 160 रनों की मजबूत बढ़त प्राप्त हुई।

दूसरी पारी इंग्लैंड:- 135 पर ऑल आउट
(लॉरेंस – 50 रन, अश्विन, अक्षर – 5-5 विकेट)

पहली पारी इंग्लैंड।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लिश टीम को अक्षर पटेल ने शुरुआत में ही 2 झटके दे डाले। कप्तान जो रुट भी महज 5 रन ही बना सके और सिराज का शिकार बने।
एक के बाद एक इंग्लिश बल्लेबाज क्रीज़ पर आते जाते रहे।

इंग्लैंड को मध्यक्रम के बल्लेबाजों ने थोड़ा संभालने की कोशिश जरूर की। बेन स्टोक्स ने सर्वाधिक 55 रन बनाए। उनके अलावा डेन लॉरेंस 46 रन बना पाए।

भारतीय टीम के लिए अक्षर पटेल ने 4 और रवि अश्विन ने 3 विकेट हासिल किए।

पहली पारी भारत।

4 मार्च को शुरू हुए चौथे टेस्ट मैच में भारत की शुरुआत खराब रही। सलामी बल्लेबाज शुबमन गिल शून्य पर आउट हो गए। चेतेश्वर पुजारा(17) भी ज्यादा बड़ा स्कोर नहीं बना सके।
भारतीय कप्तान विराट कोहली एक बार फिर शून्य(0) पर आउट हो गए। भारतीय टेस्ट टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने भी (27) रन के निजी स्कोर पर चलते बने।

रोहित शर्मा ने हालांकि 49 रन बनाए। इसके बाद मैन इन फॉर्म ऋषभ पंत ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए अपने टेस्ट कैरियर के 3 शतक जमाया। उन्होंने अपनी पारी में छक्का जड़कर शतक(101) पूरा किया। ऑस्ट्रेलिया में अपनी बल्लेबाजी का कमाल दिखाने वाले सुंदर ने एक बार फिर अपनी क्लास दर्शाते हुए नाबाद 96* रनों की पारी खेली। निचले क्रम में बल्लेबाजी करने आये लोकल बॉय अक्षर ने भी 43 रन बनाए।

इंग्लैंड टीम के लिए बेन स्टोक्स ने 4 सफलताएँ हासिल की।

भारतीय टीम ने इंग्लैंड पर 160 रनों की विशाल बढ़त हासिल की।

दूसरी पारी इंग्लैंड।

भारतीय टीम से 160 रनों से पिछड़ने के बाद अपनी दूसरी पारी शुरू करने उतरी इंग्लिश टीम फिर से लड़खड़ाती हुई नजर आयी। उसने 20 रनों के अंदर अपने टॉप आर्डर के बल्लेबाजों के विकेट गँवा दिए।

कप्तान जो रुट 30 रन, बेन स्टोक्स 2 रन, पॉप ने 15 रन और फॉक्स ने सिर्फ 13 रन बनाए। इंग्लैंड के लिए सर्वाधिक स्कोर डेन लॉरेंस ने बनाया। उन्होंने अपने टेस्ट कैरियर के दूसरा अर्द्धशतक(50) बनाया।

भारतीय टीम के लिए अक्षर और अश्विन की जोड़ी ने 5-5 विकेट हासिल किए।

ऋषभ पन्त को शतकीय पारी(101) के लिए “प्लेयर ऑफ द मैच” दिया गया।

रवि अश्विन को शानदार ऑल राउंड प्रदर्शन (189 रन और 32 विकेट) करने के लिए “प्लेयर ऑफ द सीरीज” दिया गया।

Related posts

Leave a Comment