घरेलू टूर्नामेंट सैय्यद्द मुश्ताक अली टी 20 की कल हुई समाप्ति,सभी राज्यों पटकनी देते हुए तमिलनाडु ने ट्रॉफी की अपने नाम

Spread the love

कोरोना काल के बाद भारतीय सरजमीं पर पहले घरेलू टूर्नामेंट की कल समाप्ति हुई। वर्षों से चली आ रही सैय्यद मुश्ताक अली टी20 ट्रॉफी का आयोजन 10 जनवरी से सिर्फ 6 वेन्यू पर ही किया गया था। तमिलनाडू ने शानदार खेल दिखाते हुए पूरे टूर्नामेंट में अजेय रहते हुए ट्रॉफी को दूसरी बार अपने कब्जे में किया।

कल खेले गए फाइनल में 2 बार की चैंपियन टीम बड़ोदा का मुक़ाबला 1 बार की चैंपियन तमिलनाडू से था। दोनों ही टीमें पूरे टूर्नामेंट में अजेय रही थी। तमिलनाडू ने सेमीफाइनल मैच में राजस्थान को और बड़ोदा ने हरयाणा को शिकस्त दी थी।

दुनिया के सबसे बड़े सरदार पटेल स्टेडियम में कहके गए फाइनल में तमिलनाडू के कप्तान दिनेश कार्तिक ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया। बड़ोदा ने ओहले खेलते हुए 20 ओवर में 9 विकेट खोकर महज 120 रन बनाए। जवाब में लक्ष्य का पीछा करते हुए तमिलनाडू ने सात विकेट से जीत दर्ज की।

“सिद्धार्थ” ने किया सफल।

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी बड़ोदा की शुरुआत खराब रही। उसने अपने 6 विकेट महज 36 रन पर गँवा दिए थे। पूरे टूर्नामेंट में शानदार फॉर्म में रहे कप्तान देवधर महज 16 रन बना सके।

तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आये सोलंकी ने टीम के लिए सर्वाधिक 49 रन का स्कोर बनाया। उन्होंने 7वें विकेट के लिए शेठ(29) के साथ 58 रन की साझेदारी कर टीम को 120 तक पहुँचाया।

तमिलनाडू के लिए इस सीजन का पहला मैच सीधा फाइनल खेल रहे सिद्धार्थ के नाम रहा। उन्होंने अपनी गेंदबाजी से कहर बरपाते हुए 4 विकेट झटके।

“कमाल” के कार्तिक।

महज 120 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी तमिलनाडू की टीम की शुरुआत भी ज्यादा खास नहीं रही। उसके टॉप फॉर्म बल्लेबाज जगदीसन(14) ज्यादा खास नहीं कर सके। सलामी बल्लेबाज हरि निशांत ने सर्वाधिक 35 रन बनाए।

तमिलनाडू के कप्तान दिनेश कार्तिक ने भी 22 रन की पारी खेली और अपनी टीम को जीत दिलाई। बाबा अपराजित और शाहरुख खान ने टीम को सात विकेट से जीत दिलाई।

बड़ोदा के लिए लुकमान, शेठ और पठान ने 1-1 विकेट हासिल किए।

मनिर्मन सिद्धार्थ को अपनी बेहतरीन गेंदबाजी के लिए “प्लेयर ऑफ द मैच” मिला।

Related posts

Leave a Comment