इंटीरियर डिजाइनर को कथित रूप से आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में अर्नब गोस्वामी हुए गिरफ़्तार

Spread the love

रिपब्लिक टीवी के एडिटर अर्नब गोस्वामी को आज सुबह गिफ्तार कर लिया है|

रिपब्लिक टीवी एडिटर द्वारा इंटीरियर डिजानर को बकाया राशि का भुगतान नहीं किए जाने की वजह से 2018 में इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाइक ने खुदकुशी कर ली, वही अन्वय नाइक के परिवार जनों ने ये दावा किया है कि चैनल के प्रधान संपादक अर्नब गोस्वामी ने इस जांच को दबाने की कोशिश की थी|

पत्रकारों से बातचीत के दौरान अन्वय नाइक की बेटी आज्ञा नाइक ने कहा,

” हमने अपने पिता को न्याय दिलाने के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय और रायगढ़ के पुलिस अधीक्षक समेत कई लोगों को प्रार्थना पत्र भेजे थे ” उन्होंने आरोप लगाया, “अर्नब गोस्वामी की वजह से जांच को दबाया गया| “

एक सवाल के जवाब में आज्ञा नाइक ने कहा कि वे किसी राजनीतिक नेता को नहीं जानते हैं|

उन्होंने कहा, ” हम राजनीति में नहीं आना चाहते हैं. हम किसी राजनीतिक पार्टी या व्यक्ति को नहीं जानते हैं| हम सिर्फ चाहते हैं कि मेरे मृत पिता को न्याय मिले.” इस बीच, अक्षता नाइक ने कहा कि वह गोस्वामी के खिलाफ कार्रवाई करने पर महाराष्ट्र पुलिस की आभारी हैं|

वही गिरफ्तारी के दौरान अर्नब गोस्वामी ने दावा किया कि पुलिस ने उनके साथ बदसलूकी की है|

वही मुंबई पुलिस ने अर्नब गोस्वामी पर एक और एफआईआर दर्ज की है|

इस एफआईआर में कहा गया है कि जब पुलिस की टीम अर्नब गोस्वामी को गिरफ्तार करनी पहुंची तो उस दौरान अर्नब गोस्वामी ने महिला पुलिस अधिकारी से बदसलूकी की |

Related posts

Leave a Comment