शाहीन बाग धरना-प्रदर्शन पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला,कहा-विरोध के नाम पर सड़क पर प्रदर्शन गलत

Spread the love

नई दिल्लीः कुछ दिन पहले शाहीन बाग में CAA के विरोध में हुए आंदोलन जो सड़क पर हुई और उसके बाद शाहीन बाग़ में धरने पर बैठ गयी थी,उस बैठी भीड़ को हटाने का मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गया था अब आज सुप्रीम कोर्ट का फैसला उस मामले पर आ गया आ गया है|

जहाँ सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि सार्वजनिक स्थानों पर धरना प्रदर्शन करना सही नहीं है|

इससे लोगों के अधिकारों का हनन होता है. सु्प्रीम कोर्ट ने ये भी कहा है कि कोई भी समूह या शख्स सिर्फ विरोध प्रदर्शनों के नाम पर सार्वजनिक स्थानों पर बाधा पैदा नहीं कर सकता है और पब्लिक प्लेस को ब्लॉक नहीं किया जा सकता है|

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, “शाहीन बाग इलाके से लोगों को हटाने के लिए दिल्ली पुलिस को कार्रवाई करनी चाहिए थी. विरोध प्रदर्शनों के लिए शाहीन बाग जैसे सार्वजनिक स्थलों पर कब्जा करना स्वीकार्य नहीं है. प्रशासन को खुद कार्रवाई करनी होगी और वे अदालतों के पीछे छिप नहीं सकते. लोकतंत्र और असहमति साथ-साथ चलते हैं.”

Related posts

Leave a Comment