शाहरुख खान को बेटा मानते थे दिलीप कुमार, कई बार शाहरुख उनके घर भी जाते थे

Spread the love

फिल्म ज्वार भाटा से अपने फिल्मी करियर की शुरुआत करने वाले बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता और ‘ट्रेजेडी किंग’ के नाम से मशहूर दिलीप कुमार साहब का आज सुबह यानी 7 जुलाई को निधन हो गया है | सुबह 7 बजकर 30 मिनट पर उन्होंने आखिरी सांस ली और दुनिया को अलविदा कह गए |

बात करे अगर उनके फिल्मी सफर की तो उन्हें अभिनय की दुनिया का लेजेंड कहा जाता था| उन्होंने अपने पांच दशक लंबे फिल्मी करियर में एक से बढ़कर एक फिल्मों में रोल अदा किया|

जिसमें उनकी कुछ यादगार फिल्में है ‘मुगल-ए-आजम’, ‘देवदास’, ‘नया दौर’, ‘राम और श्याम’ जैसी फिल्में, जिसमें अभिनय करके वह अमर हो गए|

दिलीप कुमार के निधन से फिल्म इंडस्ट्री में शोक की लहर है और कई कलाकारों ने ट्वीट करके शोक जताया है|

दिलीप कुमार के निधन से शाहरुख खान भी काफी दुःखी है और उसकी वजह कि वो दिलीप कुमार के बेटे जैसे है|

शाहरुख को दिलीप कुमार के घर में बेटे का दर्जा मिला हुआ है | दिलीप कुमार के साथ शाहरुख खान का रिश्ता बहुत गहरा है | दिलीप कुमार उन्हें अपना अपना मुंहबोला बेटा मानते थे|

ऐसा इसलिए कि शाहरुख के पिता ताज मोहम्मद खान का जन्म और पालन-पोषण पेशावर की उसी गली में हुआ था, जहां दिलीप कुमार का पुश्तैनी घर है|

बीबीसी की एक रिपोर्ट की माने तो शाहरुख खान ने खुद कई दिन और रात इस गली में बिताए हैं|

दिलीप कुमार का घर राष्ट्रीय विरासत घोषित

आपको बता दें कि सिनेमा की दुनिया के महान अभिनेता, दिलीप कुमार का जन्म पेशावर में हुआ था और उन्होंने अपने शुरुआती साल वहीं बिताए थे|

पेशावर के किस्सा ख्वानी बाजार में दिलीप की 100 साल पुरानी पैतृक हवेली भी है, जिसे अब पाकिस्तानी सरकार ने राष्ट्रीय विरासत घोषित कर दिया है|

Related posts

Leave a Comment